Ruby Arun

Friday, 5 August 2011

उसने मुझे.... अपने ताल्लुकात की क़ैद में रखा है.........
ना मेरा होता है.......ना मुझे किसी और का होने देता है .........

No comments:

Post a Comment